News

लौरिया : प्रजापिता ब्रम्हकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की शाखा में ग्यारह दिवसीय शिव जयंती महोत्सव का शुभारंभ

लौरिया (प च) संवाद सूत्र
प्रखंड मुख्यालय स्थित प्रजापिता ब्रम्हकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की शाखा में ग्यारह दिवसीय शिव जयंती महोत्सव का शुभारंभ स्थानीय सिओ संजय कुमार ने दीप प्रज्वलित कर किया ।इस मौके पर झंडोत्तोलन भी किया गया ।अनुमंडल मुख्यालय से आयी सेवा केन्द्र की संचालिका अबीता दीदी ने बताया कि शिव सभी आत्माओ के पिता हैं ।हिन्दू धर्म में इन्हें ज्योतिर्लींग के रुप में पुजा जाता है ।वहीं अन्य धर्मों में परमात्मा को निराकार ज्योति स्वरूप माना जाता है ।इस्लाम धर्म में अल्लाह को नूरे ए ईलाही कहा जाता है ।ईसाई धर्म में गौड इज लाईट सिख धर्म में एक ओंकार निराकार कहा जाता है ।वहीं ज्योति बहन ने बताया कि देवी देवताओं पर कमल गुलाब व अन्य सुगंधीत पुष्प चढाया जाता है जबकि शिव पर अक् धतुरा व गंधहीन पुष्प चढाया जाता है ।वास्तव में अक व धतुरा बुराइयों के प्रतिक हैं ।शिव बाबा मनुष्य से काम क्रोध मोह लोभ अहंकार आदि बुराइयों को दान में मांगते हैं ।जो इन बुराइयों को दान में चढा देते हैं वे सतयुगी दैवी राज के अधीकारी बनते हैं ।
इस मौके पर एक शोभा यात्रा भी निकाली गयी ।जिसका उद्देश्य मनुष्य का जीवन जो तनाव व अशांति से भर गया है उसे सत्मार्ग बताना है यह जयंती हर मनुष्य को पावन और हर घर को स्वर्ग बनाता है ।शोभा यात्रा में बिभीन्न देवी देवताओं की झाँकीयो के साथ शिव बाबा के संदेश के नारे लगाये गये ।मौके पर रेखा बहन रेणु बहन अलका बहन अमर श्रीवास्तव प्रभु भाई रघुनी भाई भोली भाई सदानन्द भाई सहीत सैकड़ों लोग उपस्थित रहे ।